मंगलवार, 9 अप्रैल 2013

क्यों आती है हमें हिचकी ? What is hiccups?

क्यों आती है हमें हिचकी ? What is  hiccups?
हिचकी एक ऐसी स्थिति है, जिसमें सांसों को अनिच्छापूर्वक अंदर लिया जाता है। जब आपका डायफ्राम अधिक सक्रिय हो जाता है, यह तब उत्पन्न होता है। आपका डायफ्राम एक ऐसी मांसपेशी है, जो आपके फेफड़ों को संकुचन तथा फैलने में मदद करती है। कई बार यह काफी चिढ़ पैदा करने वाली और झटके उत्पन्न करने वाली चीज़ हो जाती है। झटके आने से आप अचानक सांस अंदर लेते हैं और हिचकी पैदा होती है, क्योंकि आपका स्वर-बॉक्स हवा अंदर जाने के लिए शीघ्रता से नहीं खुल पाता है।

हिचकी सामान्यतः एक लय के साथ पैदा होती है, जहां दो हिचकियों के बीच का समय अंतराल लगभग समान रहता है।
यद्यपि अधिकतर विशेषज्ञ हिचकी के बारे में एकमत नहीं हैं कि वे क्यों आती हैं, पर सामान्यतः वे सभी ये मानते हैं कि इसका एक कारण पेट में कोई हल्की गड़बड़ी है। कभी-कभी हिचकियों को शारीरिक की बजाए मनोवैज्ञानिक माना जाता है, पर वास्तव में इसके निश्चित कारण का पता नहीं चल पाया है। कुछ वैज्ञानिक मानते हैं कि हिचकियां सांस लेने वाली पेशियों नियंत्रण वाली तंत्रिकाओं की कोई गड़बड़ी होती है।
हिचकी का क्या उपयोग है ?
इसका पता नहीं लगाया जा चुका है कि हिचकी से शरीर को क्या फ़ायदा होता है। पर यह माना जाता है कि यह जंतुओं को भोजन निगलने में मदद करती है जो उनके गले में फंस जाते हैं। जो जंतु चौपाये होते हैं, उन्हें अपने भोजन को मुंह से पेट में लाने के लिए अपने भोजन को स्थांतरित करना होता है, जिसका मतलब यह हुआ कि गले में भोजन का चिपकना आसान हो जाता है। कुछ वैज्ञानिक मानते हैं कि वे भोजन खंड के फंसने से तंत्रिका पर दबाव पड़ता है और हिचकी पैदा हो जाती है।
हिचकी कितनी देर तक जारी रहती है ?
हिचकी कुछ मिनटों से लेकर, कुछ घंटों, दिन और यहां तक कि कुछ दिनों तक जारी रह सकती है। अधिकांश समय में यह कुछ मिनटों तक रहती हैं और बिना किई उपचार के गायब हो जाती है। हिचकी के कई वर्ग होते हैं, उनकी लंबाई पर निर्भर करते हैं। जहां सामान्य हिचकी घंटे भर के भीतर गायब हो जाती है, निरंतर रहने वाली हिचकी 48 घंटों तक जारी रह सकती है, पर ये सामान्यतः हानिरहित होती हैं। तीक्ष्ण हिचकी 48 घंटों से अधिक तक जारी रह सकती है। हिचकी यदि दो महीनों से अधिक समय के लिए जारी रहे तो उन्हें इंटरैक्टेबल या डायबोलिक हिचकी कहते हैं, और यह किसी गंभीर बीमारी का संकेत होता है।
हिचकी से कैसे छुटकारा पाएं ?
हिचकी से मुक्ति पाने के कई सुझावों के बीच एक है- कुछ मीठा खाना तथा पानी पीना। चूंकि हिचकी वायु अवरुद्धता से जुड़ी होती है, इसका सबसे अच्छा उपचार है अपनी सांस को रोकते हुए उसपर नियंत्रण रखना या गहरी सांस लेना।खूब सारा पानी पिएं।” “चीनी खाएं।” “अपनी सांस को रोक कर रखें।” “उफ्फ!!

8 टिप्‍पणियां:

विवेक सैनी ने कहा…

bahut khoob sir.thank u for giving us the reason and the way to overcome this.

यशवन्त माथुर (Yashwant R.B. Mathur) ने कहा…

आपको नव संवत 2070 की हार्दिक शुभ कामनाएँ!

आज 11/04/2013 को आपकी यह पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की गयी हैं. आपकी प्रतिक्रिया का स्वागत है .
धन्यवाद!

Dr. sandhya tiwari ने कहा…

बहुत अच्छी जानकारी मिली ............धन्यवाद

dr.mahendrag ने कहा…

हिचकी के बारे में अच्छी उपयोगी ज्ञानवर्धक जानकारी आभार

Unknown ने कहा…

nice

Unknown ने कहा…

बहुत काम की बात

shanu mishra ने कहा…

हिचकी की बहुत अच्छी जानकारी मिली धन्यवाद

shanu mishra ने कहा…

हिचकी की बहुत अच्छी जानकारी मिली धन्यवाद