बुधवार, 24 नवंबर 2010

क्या होती चेयुइंगम ? What is Chewing Gum?

क्या होती चेयुइंगम ? What is Chewing Gum?
बचपन में किसी से सुना था की चेयुइंगम पशु चर्बी से बनती है परन्तु ये सच नहीं है |
तो फिर होती क्या है चेयुइंगम ?
चेयुइंगम  संयोगवश खोजी  गयी  है वो कैसे उन्नसवी सदी के 1869 ई. में रबर के नए नए विकल्पों की खोज तेज़ी से की जा रही थी तभी थामस एडम्स नामक व्यवसायी सापोडीला(Manilkara zapota,  Sapodilla) चीकू फल के  पेड़ की गोंद को मुंह में डाल कर चबाया तो उन्हें यह गोंद बहुत ही स्वादिष्ट लगी और उन्होंने विचार किया क्यों न इसको और लोगो तक भी पहुंचाया जाए बस उन्होंने इस गोंद (गम) का पेटेंट(1871) करवाया और 'एडम्स न्युयोर्क गम' गम के नाम से मार्केट में उतरा और बेचना शुरू कर दिया |
इसका चिपचिपा और लिसलिसा सा स्वाद सब को अच्छा लगा,मिठास होने और चबाते ही चले जाने के कारण यह छोटे बड़े सब में बहुत लोकप्रिय हुई | चीकू फल के पेड़ के तने के साथ एक वक्राकार कट बनाने से तने के  अंदर से गाढ़ा सफेद रस निकलता है जिसे छोटे बैग में एकत्र करते हैं कारखाने में इस रस को कॉर्न सिरप, ग्लिसरीन, चीनी फ़ूड कलर और स्वादिष्ट बनाने का मसाला के साथ उबला जाता है तो यह मिक्सचर सूख जाता है इसको फैला कर मनचाहे  आकार के टुकड़ों में काट कर चेयुइंगम बन जाती है|
बाद में इस सापोडीला चेयुइंगम  में बहुत सुधार हुए,डा. सी मैंन ने इस में पैपासीन नाम का एक सुगन्धित  पदार्थ मिला कर इसको बाजार का राजा बना दिया सुगन्धित  पैपासीन युक्त सापोडीला चेयुइंगम ने कीं सालों तक बाज़ार में राज़ किया |
सापोडीला के राज़ के बाद अब चेयुइंगम गुडा सिपैक प्रजाति के पेडों के गोंद  से बनते है       

9 टिप्‍पणियां:

ज़मीर ने कहा…

jaankari bahut hi achi lagi.

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

च्यंगम खाकर ही कमेंट्स कर रहा हूँ .... बढ़िया जानकारी दी है आपने....

केवल राम ने कहा…

अब आई बात समझ में...धन्यवाद ..
चलते -चलते पर आपका स्वागत है

आशीष मिश्रा ने कहा…

बहोत ही अच्छी जानकारी .........आभार

ZEAL ने कहा…

.

Darshan Lal ji,

Many thanks to you.

Regards,
Divya

.

कुमार राधारमण ने कहा…

पहले के च्युंगम थक कर फेकने पड़ते थे। आज च्युंगम टॉफी की तरह गल जाते हैं। यह किस कंपोजीशन के कारण संभव हुआ है?

prerna argal ने कहा…

bahut hi badiyaa jaankaari di aapne badhaai sweekaren.






ploease visit my blog.thanks.

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत अच्छी जानकारी

बेनामी ने कहा…

Thanks for the information