शनिवार, 9 अक्तूबर 2010

क्या होता है बवंडर ? what is Tornado?

क्या होता है बवंडर ? what is Tornado?
बवंडर(Tornado) एक विनाशकारी चक्रवातीय,खतरनाक हवा का घूर्णन स्तंभ है यह एक पाईपनुमा हवा का घूर्णन स्तंभ है जो  की पृथ्वी और तूफानी बादलों(cumulonimbus,क्यूम्यलोनिम्बस) के सम्पर्क से बनता है व कई बार मेघपुंज बादल cumulus cloud और आधार(पृथ्वी) के साथ संपर्क में भी बनता देखा गया है|

"आमतौर पर बवंडर को अमेरिका के कुछ निश्चित क्षेत्रों में देखा जाता है। यह भारत में भी कभी कभार नजर आ जाता है|  बवंडर हवा के भारी दबाव और बादलों के कई तह से बनता है। पानी/धूल मिटटी  की धारनुमा लकीर आसमान से बनती है और जमीन पर से पानी/धूल मिटटी  ऊपर की तरफ खींचती है।"



यदि  टोर्नाडो की संकीर्ण सिरे की तरफ कोई पानी का तालाब,झील या नदी आ जाये तो पानी ऊपर खिचने लगता है और आस पास बूंदों के रूप मे बरसने भी लगता है |
 बवंडर कई आकारों में आते हैं लेकिन कीप के रूप का जिसका संकीर्ण अंत  पृथ्वी छूता है और वृहद अंत मलबे और धूल से भरा बादल की तरफ होता है|
ज्यादातर बवंडर(Tornado) की पवन गति 40 मील प्रति घंटा(64 किमी/घ) और 110 मील प्रति घंटा(177किमी/घ),औरचोड़ाई250 फीट(75 मीटर) के लगभग होती है| बवंडर बनने के बाद खत्म होने से पहले कई किलोमीटर तक चलता है |
हालांकि बवंडर tornadoes अंटार्कटिका को छोड़कर हर महाद्वीप पर आते है ज्यादातर संयुक्त राज्य अमेरिका में होते हैं इसके अलावा दक्षिणी कनाडा,दक्षिण मध्य और पूर्वी एशिया, पूर्वी मध्य दक्षिण अमेरिका, दक्षिणी अफ्रीका, उत्तर पश्चिमी और दक्षिण पूर्वी यूरोप, पश्चिमी और दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड मे आते है |
यू ट्युब से बवंडर का एक असली वीडियो आप के लिए है देखे, 

बवंडर की वजह से टनों उपजाऊ मिट्टी भी उड़ जाती है |
अभी  कुछ दिन पहले मैंने दैनिक भास्कर अखबार मे खबर पढ़ी थी 
अमेरिका में एक भयानक बवंडर ने एक पूरे के पूरे घर को ही जमीन से उखाड़ कर 50 फिट दूर फेंक दिया। अच्छी बात यह रही कि इस घर में रह रहा दंपति बवंडर के समय घर में नहीं था और उनकी जान बच गई।
मिनेसोटा में रहने वाले बाब और लॉरेल हेंसन को जब घर के दक्षिण में बवंडर के होने की खबर मिली तो उन्होंने शहर के शरणार्थी कैंप में शरण ले ली।
जब वो घर लौटे तो देखा कि उनका घर अपनी नींव से 50 फिट दूर पड़ा है। कल रात आए इस भयानक तूफान में मिनेसोटा में कम से कम दो लोग मारे गए और कई अन्य घायल हो गए। इन भयानक बवंडर ने घरों और पेड़ों को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया।
बवंडरों  के आने के कारण :-

बवंडर(Tornado)तब बनते है जब अलग अलग तापमान और आर्द्रता के दो द्रव्य Masses का निलंब होता है| अगर वातावरण की निचली परते अस्थिर हैं तो गर्म हवा की एक मजबूत उर्ध्व हलचल बनेगी, बवंडर(Tornado)तब भी बनते है जब गर्म हवा एक दिशा से आती है और ठंडी हवा दूसरी दिशा से आती है|
सूर्य  के ताप से गर्म हवा ऊपर उठती है और ठन्डे बादलों मे जाती है तो तेजी से ऊपर उठती है और घूमने लग जाती है 
इन  लिंक्स  पर जा कर Next पर क्लिक करने पर आप एक दम जान जायेंगे कि बवंडर(Tornado)कैसे बनता है 
Play पर क्लिक करो
एक  दूसरा Animated Tornado देखे
क्या बचाव के तरीके है ?
क्या करें जब बवंडर की स्थिति चल रही हो ?
घर या इमारत के तहखाने मे चले जाएँ|
बवंडर से बचने के लिए चिमनी और खिड़कियों की तरफ ना जाएँ|
किसी मजबूत फिक्स फर्नीचर नीचे चले जाओ|
कार को रोक कर बाहर निकल कर कोई सुरक्षित जगह ढूंढों या फिर जमीन पर लेट जाओ|
चित्र गूगल इमेज से साभार


8 टिप्‍पणियां:

शरद कोकास ने कहा…

बहुत सही जानकारी है ।

बंटी चोर ने कहा…

बढ़िया ... कर ले क्या .... अगर आप कहे तो

Mahak ने कहा…

बढ़िया जानकारी दर्शन लाल जी पर एक प्रश्न भी इन पंक्तियों पर -

या फिर ज़मीन पर लेट जाओ

ज़मीन पर लेटने पर tornado क्या हमें अपनी चपेट में नहीं ले लेगा ??

आशीष मिश्रा ने कहा…

बहोत ही अच्छी जानकारी

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी है। बधाई स्वीकारें।

गिरीश बिल्लोरे ने कहा…

पोस्ट लिखने की हड़बड़ी में बधाई देना भूल गया बेहतरीन पोस्ट के लिये आभार

ePandit ने कहा…

बढ़िया जानकारी। टॉर्नेडो पर हॉलीवुड में बहुत सी फिल्में बनती हैं।

arun kumar dilliwar ने कहा…

अभी हाल में टारनेडो से संबंधित प्रश्न में टारनेडो का संबंध अमेरिका से मानते हुए मैंने आस्ट्रेलिया आप्सन को नकार दिया। क्या मैंने सही किया?